सालो पहले महिलाएं इस काम के लिए करती थी प्याज का इस्तेमाल, जान कर सन्न रह जाएंगे आप !

भारत देश में बहुत कम लोग ऐसे होंगे जो भोजन के साथ प्याज खाना पसंद न करते हो. वैसे हम आपको बता दे कि प्याज से न केवल खाने का स्वाद बढ़ाता है बल्कि इससे यौन शक्ति, शीघ्रपतन, वीर्यवृद्धि और नपुंसकता जैसी समस्याएं भी खत्म होती है. गौरतलब है, कि भारत में सबसे ज्यादा प्याज महाराष्ट्र में उगाई जाती है. इसके इलावा कर्नाटक, उड़ीसा, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु और गुजरात आदि प्रदेशो में भी इसका उत्पादन किया जाता है.

वैसे प्याज में काफी तीखापन होता है और इसलिए इसका इस्तेमाल खाना पकाने के लिए किया जाता है. यहाँ तक कि कुछ लोगो को तो प्याज खाने की इतनी बुरी आदत होती है कि इसके बिना वे खाना खा ही नहीं सकते. बता दे कि प्याज में आयरन, कैल्शियम और विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है. वैसे अगर प्याज के इतिहास के बारे में बात करे तो आपको जान कर हैरानी होगी कि करीब पांच हजार साल पहले खुदाई में प्याज के अवशेष मिले थे.

बरहलाल इन अवशेषों के मिलने के बाद ही यह बात सामने आयी थी, कि पहले की महिलाएं न केवल खाने के लिए प्याज का इस्तेमाल करती थी, बल्कि एक ऐसे काम के लिए भी इनका इस्तेमाल करती थी, जिसके बारे में जान कर आज की महिलाएं वास्तव में चौंक जाएंगी. गौरतलब है, कि मिस्र के पिरामिड के बारे में तो आपने सुना ही होगा. बता दे कि यहाँ ईसा से तीन हजार साल पहले प्याज की खेती होती थी. यहाँ तक कि मिस्र के राजा रामसेस चतुर्थ कती की ममी के साथ भी प्याज के टुकड़ो के कुछ अवशेष पाए गए थे.

आपको जान कर हैरानी होगी कि पहले के समय में प्याज का इस्तेमाल पूजा करने के लिए भी किया जाता था. इसके इलावा प्याज का इस्तेमाल अंतिम संस्कार के समय भी किया जाता है. गौरतलब है, कि पहले के समय में जो महिलाएं माँ नहीं बन पाती उनका इलाज भी डॉक्टर प्याज द्वारा ही करते थे. जी हां प्याज की मदद से महिलाएं जल्दी ही माँ बन जाती थी. बता दे कि इस उपाय को केवल महिलाओ पर ही नहीं बल्कि जानवरो द्वारा बच्चे पैदा करने के लिए भी किया जाता था.

बरहलाल प्याज के इन फायदों के बारे में जान कर यक़ीनन आपको भी काफी हैरानी हुई होगी, पर ये बातें वास्तव में सच है.