अगर आपको भी कही दिख जाए ये पौधा तो आज ही घर ले आए इसकी जड़, परेशानी नहीं रखेगी घर में कदम !

आज कल हर व्यक्ति सुकून के कुछ पल ढूंढने की बहुत कोशिश करता है, पर जीवन में परेशानिया ही इतनी है कि सुकून के दो पल मिलना तो दूर की बात है, इंसान हमेशा बीमारियों से ही घिरा रहता है. बरहलाल यदि आप भी लम्बे समय से किसी बीमारी का शिकार है और दवाई लेने के बावजूद भी आपकी बीमारी ठीक नहीं हो रही है, तो ये वास्तव में आपके लिए बड़ी परेशानी की बात है. वैसे शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है, कि कई बार व्यक्ति नकारात्मक शक्तियों के कारण भी बीमारियों के सम्पर्क में आ जाता है और फिर ठीक नहीं हो पाता. इसलिए आज हम आपके लिए एक ऐसा उपाय लाये है, जो इस नकारात्मक शक्ति को पूरी तरह से खत्म कर देगा.

जी हां बता दे कि ये उपाय आंकड़े के पौधे से संबंधित है. अब ये तो सब जानते है, कि पेड़ पौधों से हमें ताज़ी हवा, ऑक्सीजन और बहुत कुछ प्राप्त होता है और इनसे वातावरण भी खुशनुमा रहता है. इसके इलावा हालात चाहे जैसे भी हो पर हर हाल में हरियाली हमारे लिए फायदेमंद ही होती है. इसके साथ ही शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है, कि आंकड़े का पौधा हमारे लिए लाफ़ी लाभदायक होता है और जिसके घर के पास यह पौधा होता है, उसे काफी फायदा भी होता है.

बता दे कि यह पौधा आम तौर पर जंगल में यूँ ही पनप जाता है और इसे अकुआ नाम से भी जाना जाता है. बरहलाल आज कल ये पौधा शहरों में भी आसानी से देखने को मिल जाता है. गौरतलब है, कि जहाँ कही बंजर जमीन हो वहां ये पौधा अपने आप ही पनप जाता है और यह एक प्रकार से विषैले पौधे की श्रेणी में आता है. जी हां आपको मालूम होगा कि आंकड़े के पौधे से एक सफ़ेद रंग का तरल पदार्थ जो दूध की तरह होता है वो भी निकलता है और वो काफी विषैला होता है. इसलिए यदि कोई व्यक्ति अपनी बीमारी से निजात पाना चाहता है और बुरी शक्तियों को दूर भगाना चाहता है, तो उसे आंकड़े के पौधे का ये उपाय करना चाहिए.

इस उपाय के अनुसार आंकड़े के पौधे की जड़ का एक छोटा सा टुकड़ा लेकर आये और उसे तावीज में डाल कर गले में पहन ले और इस बात का ध्यान रखे कि पहले जड़ को गंगाजल से धो ले और फिर उसे तावीज में डाले. इसके साथ ही इस बात का ध्यान रखे कि तावीज के लिए केवल काले धागे का ही इस्तेमाल करे. वैसे भी आज कल मार्किट में कई तरह के तावीज आसानी से मिल जाते है. बता दे कि यह तावीज आपके लिए एक कवच की तरह काम करेगा और आपको बीमारियों से सुरक्षित रखेगा.

इसके इलावा शास्त्रों के अनुसार आंकड़े का फूल शिवलिंग पर चढाने से सभी मनोकामनाएं भी पूरी हो जाती है और अक्षय पुण्य की प्राप्ति भी होती है. बता दे कि यदि आंकड़े का पौधा मुख्य दरवाजे या घर के पास भी हो तो इसे शुभ माना जाता है. वैसे इसके फूल सफ़ेद रंग के होते है. बरहलाल ऐसा कहा जाता है, कि यदि घर के पास आंकड़े का पौधा हो तो इससे सभी परेशानियां खत्म हो जाती है, घर में सुख समृद्धि और सकारात्मक ऊर्जा का वास भी होता है और उस घर के लोगो पर महालक्ष्मी जी की असीम कृपा बनी रहती है.

वैसे आंकड़े का पौधा घर के पास होने से धन लाभ भी हो सकता है. इसलिए जितना जल्दी हो सके इस पौधे की एक जड़ को अपने घर ले आये और नकारात्मक ऊर्जा को घर से दूर भगाये.