अब बाबा रामदेव के भी आ गए बुरे दिन, अदालत ने लगाई पतंजलि उत्पादों के विज्ञापन पर रोक, जाने वजह

योगगुरु बाबा रामदेव के दिन दिन इन दिनो कुछ अच्छे नहीं चल रहे है, और अब अदालत ने इनके ऊपर भी नजर जमा ली है। अरे घबड़ाइये नहीं, असल में बाबा रामदेव अपने पतंजलि के उत्पाद के विज्ञापन को लेकर इन दिनो चर्चा में चल रहे है। पिछले कई दिनों से आपने अगर ध्यान दिया होगा तो आपके टेलिविजन पर हर प्रोग्राम के बीच-बीच में दिखाये जाने वाले पतंजलि के विज्ञापन अब नहीं दिख रहे होंगे। जी हाँ, आपको बताना चाहेंगे की पतंजलि आयुर्वेद साबुन के विज्ञापन पर डेटॉल साबुन बनाने वाली कंपनी रेकिट बेकिंसर की याचिका पर बॉम्बे हाईकार्ट के बाद अब दिल्ली हाईकार्ट ने भी अंतरिम रोक लगा दी है।

चूंकि मामला कोर्ट में है इस वजह से हम बहुत ज्यादा टिप्पणी नहीं करेंगे। असल में बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद के जिस विज्ञापन पर रोक लगी है वह पतंजलि के साबुन का विज्ञापन है जिसमें केमिकल साबुन को छोड़कर देशी और आर्युवेदिक साबुन लगाने की अपील की गई है। बताया जा रहा है की प्रसिद्ध उत्पाद कंपनी हिंदुस्तान यूनिलीवर ने इस विज्ञापन पर रोक लगाने की मांग करते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। जिसके बाद अदालत ने उचित दलीलों के बाद फिलहाल के लिए इस विज्ञापन पर रोक लगाई हुई है।

आपको बता दे की कंपनी का मानना था कि इस विज्ञापन में उसके साबुन ब्रांड ‘डेटॉल’ को निशाना बनाया जा रहा है जिसके बाद हिंदुस्तान यूनीलीवर ने भी इस विज्ञापन पर रोक लगाने की मांग करते हुए बॉम्बे हाईकार्ट का दरवाजा खटखटाया था। साथ ही दिल्ली हाई कोर्ट ने भी पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड को च्यवनप्राश के विज्ञापन को प्रकाशित या प्रसारित करने से रोक दिया है। इसके लिए डाबर कंपनी द्वारा शिकायत की गई थी जिसमें कहा गया था कि पतंजलि के विज्ञापन में उसके ब्रैंड को नीचा करके दिखाया जा रहा है।

फिलहाल हाईकार्ट ने पतंजलि आयुर्वेद को निर्देश दिया कि 18 सितंबर यानी की अगली सुनवाई तक विज्ञापन पर रोक लगाई जाए। पतंजलि के इस विज्ञापन में लक्स, पीयर्स, लाइफबॉय और डव का नाम लेकर अप्रत्यक्ष तरीके से उपभोक्ताओं को बताया जाता है कि ‘केमिकल बेस्ड साबुनों’ का प्रयोग न करें और प्राकृतिक अपनाएं।

खैर इसी बीच खबर आ रही है की पिछले दो वर्षों से अपने उत्पादों के खुद ही प्रचार ब्रांड बने बाबा रामदेव अब देशी प्रचार तंत्र को बदलने वाले हैं। बताया जा रहा है की अपने प्रोडक्ट्स का प्रचार करने के ल‌िए अब बाबा रामेदव बड़ा धमाका करने वाले हैं। बताया जा रहा है क‌ि बाबा रामदेव ने पतंजल‌ि के प्रोडक्टस के प्रचार को मॉडलों के हवाले कर दिया है। जानकारी है की विदेशों में हो रहे प्रचार में खुद बाबा ही पतंजलि के ब्रांड बने रहेंगे। ऐसा माना जाता है की पश्चिमी जगत में मॉडलों से अधिक भरोसा बाबाओं पर किया जाता है, इसलिए विदेशी प्रचार में संत छवि जारी रहेगी।