बीवी के होते हुए भी अगर पार्टनर देख रहा है XXX तो इसका मतलब वो…..

यह बात हम सब जानते हैं कि दुनिया में प्यार एक ऐसी चीज है जिसको सिर्फ एहसास किया जा सकता है। इसको आप बयां नहीं कर सकते हैं। लोग ऐसा सोचते हैं कि अगर हम जिसे प्यार करते हैं हम उसके साथ रियल होते हैं। अगर आप प्रेक्टिकली देखे तो यह बिल्कुल झूठ है। क्योंकि हर एक पार्टनर एक दूसरे से बहुत सी बातें छुपाता है और बहुत से काम ऐसे होते हैं जो उसे छुप कर करता है। इन बातों में आप स्मोकिंग, ड्रिंकिंग भी ले सकते हैं। जो अपने पार्टनर के साथ शेयर करना बिल्कुल पसंद नहीं करता है।

क्योंकि उसे कहीं ना कहीं इस बात का डर रहता है कि वह अपने पार्टनर को खो देगा। इन्हीं में से एक बात और है वह है पॉर्न वीडियो देखने की। जब लोग नॉर्मल यह बोलते हैं कि मेरा पार्टनर पोर्न वीडियो देखता है तो लोग सोचते हैं कि वह बहुत ही गंदा और बेकार आदमी होगा। कई लोग ऐसे भी होते हैं जो शादीशुदा होने के बाद भी पॉर्न वीडियो देखना पसंद करते हैं।

अगर बात की जाए शादीशुदा आदमी की तो अगर शादीशुदा आदमी पोर्न वीडियो देख रहा है और उसकी बीवी उसे यह सब करते देख ले। तो उसके मन में तरह-तरह के ख्याल आते हैं उसे लगता है कि उसका हस्बैंड उसकी तरफ अट्रैक्शन नहीं रखता है या अब उससे प्यार नहीं करता है। आइए जानते हैं कि शादीशुदा आदमी पोर्न वीडियो क्यों देखते हैं।

आते हैं ऐसे ख्याल

जब कोई बीवी अपने हस्बैंड को पोर्न वीडियो देखते हुए पकड़ लेती है तो उसके मन में यह ख्याल आता है। कि आखिर मैं इन्हें ऐसी क्या जरुरत पड़ गई कि उन्हें यह सब देखना पड़ रहा है या फिर मैं उनकी जरूरतें क्या पूरी नहीं करती। क्या वह किसी और स्त्री की तरफ अट्रैक्ट हो रहे है।

एक ही मतलब नहीं

अगर आप इस तरह का कुछ सोच रहे हैं तो आप गलत है। अगर आपका हस्बैंड पोर्न वीडियो देख रहा है तो इसका मतलब यह नहीं कि वह इस का आदी हो गय। बल्कि इसके बहुत सारे मतलब होते हैं।

उत्तेजना की बात

अगर महिलाएं पुरुषों के बारे में जानती हैं। तो उन्हें इतना तो पता ही होगा कि पुरुषों में उत्तेजना इतनी ज्यादा होती है कि वह भी विसुअल एक्सपीरियंस से ही उत्तेजित हो जाते हैं उनके लिए उन्हें इमेजिनेशन या फिर दिल लगाने की जरूरत नहीं है।

एंटरटेनमेंट के लिए
अगर कोई पुरुष इस तरह की वीडियो देखता है तो इसका मतलब यह नहीं कि वह महिलाओं की इज्जत नहीं करता बल्कि वह अपने मजे के लिए इस तरह की वीडियो देखता है।

यह मतलब नहीं
अगर आप इस तरह का सोचते हैं कि आप की जगह पोर्न वीडियो ने ले ली है तो आप बिल्कुल गलत है। क्योंकि वह एक अलग चीज है और आप की जगह उसकी जिंदगी में कभी कोई नहीं ले सकता।

असभ्य नहीं
ऐसा बिल्कुल नहीं है कि जो पुरुष पोर्न वीडियो देखता है वह सभ्य भी नहीं है यह गलत फहमी है। बल्कि जब इंसान रियल लाइफ में यह सब कर सकता है तो देखने में कोई गलत बात नहीं है।