11 साल की ये मासूम सी लड़की ऐसे हुई प्रेग्नेंट, पूरा सच जान कर डॉक्टर भी रह गए हैरान

आज हम आपको एक ऐसी घटना से रूबरू करवाने वाले है, जिसके बारे में जान कर आप दंग रह जायेंगे. जी हां बता दे कि ये घटना एक लड़की के बारे में है. जो महज ग्यारह साल की उम्र में ही प्रेग्नेंट हो गयी. अब उसके साथ क्या हुआ और इतनी कम उम्र में वो माँ कैसे बन गई, ये तो आपको पूरी खबर पढ़ने के बाद ही पता चलेगा. गौरतलब है कि यहाँ जिस लड़की की हम बात कर रहे है, वो ऑस्ट्रेलिया की रहने वाली है. दरअसल एक दिन अचानक इस स्कूल गर्ल के पेट में दर्द होने लगा. ऐसे में जब डॉक्टर को दिखाया गया, तो उन्हें लगा कि ये प्रेगनेंसी का दर्द है. बता दे कि इस लड़की का नाम चेरिश रोज लावेले है. जो ऑस्ट्रेलिया में क्वींसलैंड की रहने वाली है. बता दे कि चेरिश का वजन पहले तो कम होने लगा.

मगर जब उसके पेट में दर्द शुरू हुआ तो उसके बाद से अचानक उसके वजन में बढ़ोतरी होने लगी. ऐसे में जब उनकी माँ उन्हें अस्पताल लेकर गयी तो पहले तो डॉक्टर को ये लगा कि वो प्रेग्नेंट है. मगर जब डॉक्टर ने पूरी तरह से चेक अप किया तो असली बात कुछ और ही निकली. बता दे कि चेरिश में फिजिकल चेंजिस होने के साथ साथ उनकी पर्सनालिटी में भी काफी बदलाव आ रहा था. वही उनकी माँ लुइस को लग रहा था कि शायद ईटिंग डिसऑर्डर की वजह से चेरिश में ये बदलाव आ रहे है. इसके इलावा लुइस ने बताया कि पिछले दो महीने से मैं उसमे ये बदलाव देख रही हूँ.

इसके साथ ही लुइस ने कहा कि वो पहले की तरह खुश नहीं रहती थी और न ही गाना गाती थी. फिर एक दिन अचानक चेरिश के पेट में भयानक दर्द होने लगा. जिसके बाद लुइस उसे लेकर हर्वे बे अस्पताल चली गयी. आपको जान कर ताज्जुब होगा कि डॉक्टर ने जब उसका इलाज किया यानि उसका टेस्ट किया तो उसकी ओवरी में जर्म सेल कैंसर की भयानक बात सामने आयी. हालांकि ये कैंसर इस उम्र की लड़कियों में कम ही देखने को मिलता है. ऐसे में चेरिश का छह महीने के लिए ट्रीटमेंट किया गया और उसका पूरा शेड्यूल बदला गया.

जी हां उसे ट्रीटमेंट तक होमस्कूल में आगे की पढ़ाई करने के लिए कहा गया. इसके बाद चेरिश की कीमोथैरिपी का सिलसिला शुरू हुआ. फिर जब दो हफ्तों के बाद ट्यूमर का साइज कम हो गया, तो उसे काट दिया गया. हालांकि अभी भी कम से कम चार से छह महीने तक कीमोथैरिपी का ये सिलसिला जारी रहेगा. मगर इस इलाज के दौरान चेरिश को अपने सभी बाल खोने पड़े. ऐसे में उसकी पूरी फैमिली उसका काफी साथ दे रही है और उसकी प्यार से देखभाल कर रही है.

बरहलाल हम दुआ करते है कि चेरिश जल्दी से ठीक हो जाए और पहले की तरह मुस्कुराने लगे.