इस तस्वीर को zoom करके देखने पर सच में हिल जाएगा आपका दिमाग

वैसे तो आपने कई बार अजीबोगरीब खबरों के बारे में सुना और पढ़ा होगा, लेकिन आज जिस खबर से हम आपको रूबरू करवाने वाले है, वो बेहद चौंकाने वाली खबर है. सबसे पहले तो हम आपको ये बता दे कि ये खबर भारत की नहीं है, बल्कि ये खबर साउथ अफ्रीका से आयी है. जी हां दरअसल खबर ये है कि साउथ अफ्रीका के ईस्टर्न केप प्रोविंस के लेडी फ्रेर में रहने वाले करीब चार हजार लोग बुरी तरह से डरे हुए है. अब उनके इस डर की वजह क्या है, ये तो आपको पूरी खबर पढ़ने के बाद ही पता चलेगा. मगर हम आपको केवल इतना बता सकते है कि उनके डर की वजह काफी बड़ी है. दरअसल बात ये है कि इन लोगो के इलाके में एक भेड़ ने एक बहुत से विचित्र दिखने वाले यानि अनोखे से प्राणी को जन्म दिया है.

आपको जान कर ताज्जुब होगा कि ये प्राणी दिखने में आधा जानवर और आधा इंसानो जैसा लगता है. ऐसे में जो लोग अंध विश्वास में यकीन करते है, वो लोग इसे शैतान का भेजा हुआ दूत ही मान रहे है. हालांकि एक ब्रिटिश वेबसाइट के अनुसार वहां के लोगो का कहना है कि ये प्राणी जादू टोने की वजह से ही पैदा हुआ है. यहाँ तक कि उन लोगो का ये मानना है कि किसी इंसान द्वारा जानवर के साथ सेक्स करने की वजह से ही इस तरह के अजीबोगरीब प्राणी का जन्म हुआ होगा. इसके इलावा इस खबर की सूचना मिलते ही वहां के ग्रामीण विकास विभाग की टीम इस अजीबोगरीब प्राणी के टेस्ट के लिए वहां आ पहुंची. यानि उन्होंने इस प्राणी की अच्छी तरह से जांच पड़ताल की.

ऐसे में वहां के लोगो में और ज्यादा हंगामा मच गया और हर कोई उस प्राणी को लेकर कई तरह की बातें करने लगा. वही कुछ लोग तो इस प्राणी की तस्वीरें देख कर ही हद से ज्यादा डर गए थे. वही जानवरो के डॉक्टर लुबाबालो वेबी ने भी प्राणी का टेस्ट करने के बाद इस बात की पुष्टि कर दी थी कि ये प्राणी वास्तव में इंसानो से मिलता जुलता सा है. हालांकि ये खतरनाक नहीं है और न ही ये किसी इंसानी जीवन का हिस्सा है. इसके साथ ही डॉक्टर ने ये भी बताया कि एक भेड़ करीब पांच महीने के बाद एक मेमने को जन्म देती है. यानि इसका मतलब ये हुआ कि जिस भेड़ ने इस मेमने को जन्म दिया होगा, वो पिछले साल अगस्त या सितम्बर के महीने में प्रेग्नेंट हुई होगी. ऐसे में दक्षिण अफ्रीका का मौसम लगातार बदलता रहता है.

जी हां इस दौरान वहां कभी बारिश तो कभी ठंडी होती है. जिसके तहत मच्छर या दूसरे जीवो की वजह से वायरस और इन्फेक्शन भी खूब फैलता है. इसलिए डॉक्टर का कहना है कि ये उसी वायरस का नतीजा हो सकता है. मगर अफ़सोस कि अब ये प्राणी जिन्दा नहीं है. गौरतलब है कि जानवरो का इलाज करने वाले डिपार्टमेंट ने इस प्राणी का पोस्टमार्टम करके इसकी जाँच पड़ताल करनी भी शुरू लार दी है. हालांकि वहां के इलाके के लोगो में अभी भी ये डर फैला हुआ है कि किसी ने उनके इलाके में जादू टोना कर दिया है. यहाँ तक कि वहां के लोगो का ये भी कहना है कि जब उनके गांव के एक बुजुर्ग ने इस प्राणी को देखा तो उन्होंने कहा कि ये शैतान का बच्चा है.

आपको जान कर ताज्जुब होगा कि वहां के लोगो का ये कहना है कि जब तक इस मासूम प्राणी को जलाया नहीं जाता, तब तक उन्हें चैन नहीं मिलेगा. अब यूँ तो भारत में भी ऐसे कई किस्से देखे जा चुके है, लेकिन यहाँ के लोग ऐसे प्राणी से डरने की बजाय उनकी पूजा करना ही शुरू कर देते है. वैसे अगर इस खबर की बात करे तो इसमें कोई शक नहीं कि ये एक भेड़ का ही बच्चा है और ये इंसानो जैसा दिखता है, लेकिन इंसान नहीं है. दरअसल ऐसा हो सकता है कि प्रेगनेंसी के शुरुआती दौर में ही ये इन्फेक्टेड हो गया हो. जिसके चलते इसका ये हाल हो गया.

हालांकि इस अजीबोगरीब प्राणी के पैदा होने के पीछे वजह चाहे जो भी हो, लेकिन इस तरह से किसी मासूम जीवित प्राणी का पोस्टमार्टम करना और उसे जलाना वास्तव में बहुत बड़ा अंध विश्वास और अपराध है.