31 जनवरी खग्रास चंद्रग्रहण, गलती से भी न करें ये 2 काम वरना भुगतना होगा नुकसान

अब तक बहुत सारे लोगों को इस बात का पता चल ही चुका होगा की इस महीने की 31 तारीख को इस साल का पहला और सबसे बड़ा चंद्रग्रहण 31 जनवरी 2018 को बुधवार के दिन लग रहा है। ऐसा बताया जा रहा है की इस बार का यह चंद्रग्रहण माघ पूर्णिमा के दिन सायंकाल से पुरे भारतवर्ष में दिखाई देगा। आपको यह भी बता दें की इस ग्रहण की शुरुवात शाम 5 बजकर 18 मिनट से होगी और यह ग्रहण रात्री में 8 बजकर 42 मिनट पर समाप्त होगा।
कुल 3 घंटे 24 मिनट तक यह चन्द्रग्रहण लगा रहेगा और आपको बताना एकै इस दौरान कई सारे कार्यों को करने से माना किया गया है।

जानकारी के अनुसार बताया जा अरहा है की बुधवार के इस दिन माघ पूर्णिमा है और शास्त्रों के अनुसार इस दिन कई ऐसे कार्य है जिन्हे आप ना ही करें तो ज्यादा बेहतर है अन्यथा ऐसा भी हो सकता है की अकारण ही आपको उसके गंभीर परिणाम भुगतने पद सकते है। तो चलिये सबसे पहले आपको बताते है की आपको इस चन्द्रग्रहण के दिन कौन कौन से कार्य है जिन्हे नहीं करना चाहिए।

सबसे पहले तो आपको बता दें की चंद्र ग्रहण के दौरान चंद्रमा से कुछ ऐसी किरणें भी निकलती है जो नकरात्मक प्रभाव पैदा करती हैं, और इसलिए ऐसा माना जाता है की चंद्र ग्रहण के वक़्त कोई भी ऐसी महिला जो गर्भवती हो घर से बाहर ना ही निकले तो उसके और उसके होने वाले बच्चे के लिए ज्यादा बेहतर होगा। हालांकि यदि ऐसी कोई अरिस्थिति आयी की आपका बाहर निकलना काफी ज्यादा आवश्यक है तो आपको अपने गर्भ पर चंदन के साथ तुलसी के पत्तो को पीसकर और फिर उसका लेप तैयार करके उसे लगाकर ही घर से बाहर कदम रखना है।

आपके लिए यह बहुत ही आवश्यक है की चंद्रग्रहण के समय आप यानि की कोई भी महिला जो गर्भवती हो उंखे किसी भी तरह से किसी प्रकार की धारदार वस्तु यानी की कैची, ब्लेड, आदि से दूर रहना है और ना ही इनका प्रयोग किसी भी अवस्था में इस्तेमाल करना है। चंद्रग्रहण के समय गर्भवती स्त्रियाँ भगवान श्री कृष्ण का मंत्र जाप करें। ऐसा करना उनके लिए काफी शुभ साबित होगा।

इसके अलावा आपको यह बता दें की जिस वक़्त चंद्र ग्रहण लग रहा हो बेहतर होगा की आप उस रोज कोई भी शुभ कार्य ना करें या किसी तरह का शुभ कार्य की शुरुवात करने जा रहे है तो ना कीजिये। ऐसा माना जाता है की ग्रहण की वजह से आपका बना बनाया हुआ कार्य भी बाधित हो सकता है साथ ही आपको नुकसान हिने की भी संभावना है। शास्त्रों के अनुसार ऐसा बताया जाता है की ग्रहण के समय आप किसी भी सूरत में किसी तरह की यात्रा पर, लंबी यात्रा पर ना ही निकलें तो ज्यादा बेहतर होगा। आपको बता दे की चन्द्रग्रहण के दिन किसी भी तरह की यात्रा आमतौर पर फलित नहीं होती है।

अगर बात करें तो आपको यह भी बेहतर पता होना चाहिए की कभी भी किसी तरह के ग्रहण काल में किसी भी व्यक्ति को मूर्ति स्पर्श करना या फिर अपने बाल काटना या नाखून आदि भूल से भी नहीं काटना चाहिए।

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दिन की यदि आप इस तरह का कोई भी कार्य करते है तो इससे आपको काफी दोष लगता है और आपको इसका नुकसान भी उठाना पड़ सकता है।