18 मार्च से हिन्दी नव वर्ष का हो रहा है शुरुआत ,राजा-मंत्री होंगे सूर्य-शनि, इन राशियों की बदल जाएगी किस्मत, हो जाएंगे मालामाल

नव संवत्सर 2075 चैत्र शुक्ल प्रतिपदा , 18 मार्च 2018 से प्रारंभ हो रहा है। यही हिन्दुओं का नया वर्ष है।हमारे सनातन धर्म की मान्यता अनुसार इस महीने की 18 तरीक से हिन्दू नववर्ष प्रारंभ होगा। इस बार इस नववर्ष का नाम है विरोधीकृत संवत्सर। ग्रंथो में लिखा है कि जिस दिन सृष्टि का चक्र प्रथम बार विधाता ने प्रवर्तित किया, उस दिन चैत्र शुदी 1 रविवार था। हमारे लिए आने वाला संवत्सर 2075 बहुत ही भाग्यशाली होगा , क़्योंकि इस वर्ष भी चैत्र शुक्ल प्रतिपदा को रविवार है, शुदी एवम ‘शुक्ल पक्ष एक ही है| इसके राजा सूर्य देव होंगे और शनिदेव महामंत्री रहेंगे।

18 मार्च 2018 से विक्रम संवत् 2075 आरंभ होगा। चैत्र माह में कई व्रत और त्योहार मनाए जाएंगे।मेघेश शुक्र एवं धनेश चंद्र होंगे। 18 मार्च से चैत्र नवरात्रि का शुभारंभ होगा इसके बाद चैत्र माह की शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को रामनवमी है अब आइये जानते है इसा असर राशियो पर क्या करने वाला है|

मेष

इस राशी वालो की अक्टूबर तक गुरु की पूर्ण दृष्टि से जमीन संबंधी मामलों में आय बढ़ेगी। नए आय के स्रोत भी प्राप्त होंगे। आलोचनाओं से बचने का अच्छा अवसर मिलेगा और विवादों में विजय प्राप्त होगी। एक साथ कई कार्यों को करने का मौका मिलेगा। मित्रों के साथ ही परिवार से सहयोग मिलेगा।

वृषभ

इस राशि पर शनि का प्रकोप पूरे वर्ष देखने को मिलेगा और आपका मन विचलित हो सकता है और छोटी-छोटी बात पर क्रोध भी आ सकता है। आपके आत्मविश्वास में कमी आ सकती है। परिवार को कष्ट मिल सकता है। इसके लिए आपको किसी गरीब को कंबल या अन्य गर्म कपड़ों का दान करना है|

मिथुन

इस पूरे वर्ष इस राशि वालो की मजबूत बनी रहेगी। हर काम में सफलता मिलेगी और आपका आत्मविश्वास बढ़ा हुआ रहेगा। ज्यादा सफलताओं से आत्म विश्वास बढ़ सकता है। पराक्रम में वृद्धि होगी और कोई बड़ा काम भी आपके हो सकता है। आपको किसी निर्धन को कच्चे चावल और दाल का दान करना है|

कर्क

इस राशी वालो का आत्मबल मजबूत बना रहेगा, लेकिन चिंताएं थोरा अधिक होने की संभावना बनी रहेगी। जोखिमपूर्ण काम करने से आपको बचना होगा घर के विवादों से दूर रहने का प्रयास करें। दिसंबर 2018 से फरवरी 2019 तक व्यय अधिक और आय कम होने के आसार हैं।

सिंह

इस राशी वालो के ऊपर वर्ष भर में ग्रहों के प्रभाव आते-जाते रहेंगे। आपके आय में वृद्धि की संभावनाएं बनेंगी, हालांकि किसी बड़े ग्रह का प्रभाव नहीं होने से, काम करने से पहले हर बात को जांच लेना ठीक होगा। आपके लिए यह समय कुछ चिंताजनक हो सकता है।आपको हर रविवार किसी निर्धन को धन का दान करना होगा तो आप के लिए अच्छा होगा|

कन्या

इस राशी वालो पर शनि का ढय्या रहेगा। आपके लिए श्रेष्ठ समय रहेगा। बाधाएं समाप्त होंगी और सभी ओर से शुभ समाचार प्राप्त होंगे। अगस्त के बाद से काम की अधिकता रहेगी और भाग्य भी अनुकूल रहेगा। आवश्यकताएं समय पर पूरी होंगी।

तुला

नव वर्ष शुरुआत से ही अनुकूलता प्रदान करने वाला रहेगा। शनि के वक्री होने से आपको कुछ परेशानियां आ सकती हैं। अक्टूबर से आपको राहत प्राप्त होगी। आपकी आय में सुधार होगा और विवादित मामलों में आपको विजय मिलेगी। इसके किये आपको बेसन एवं पुराने वस्त्रों का दान करें।

वृश्चिक

आपके आरंभ में कठिनाइयां रहेंगी। अक्टूबर में गुरु का आपकी राशि में प्रवेश करेगा और यह समय सब प्रकार से आपपर अनुकूल रहेगा। परिवार में वर्चस्व बढ़ेगा और कार्यस्थल पर अनुकूलता बनी रहेगी। नए कार्यों की प्राप्ति भी होगी। किसी बड़े काम की ओर अग्रसर हो सकते हैं।

धनु

मंगल, शनि का गोचर इस राशि में है। ये अपने स्वयं के दम पर आगे बढ़ने की स्थिति में है। जनवरी 2019 के बाद से और अच्छा समय आने वाला है। किसी अन्य से सहायता लिए बिना ही अपना कार्य सिद्ध कर लेंगे।

मकर

इस साल सारे काम सुगमता से चलते रहेंगे और किसी प्रकार की बाधा आने की संभावनाएं नहीं हैं। अधिकारी आपके अनुकूल बने रहेंगे और बेकार के कार्यों में समय बर्बाद नहीं करना है और धन का आगमन भी सुगम रहेगा। न्यायालयीन मामलों में सफलता मिलेगी।

कुंभ

वर्षभर आप के ऊपर शनि की यह स्थिति बनी रहेगी। धन के मामलों में कमी रहेगी और आत्मबल मजबूत रहेगा। आपको सम्मान भी प्राप्त होगा। भविष्य को लेकर आशाएं जीवंत रहेंगी। बच्चों के साथ रहने का समय मिलेगा |

मीन

इस राशि के लिए नीच का बुध, सूर्य, चंद्रमा और उच्च के शुक्र का गोचर में रहेगा। इस कारण आपको कुछ परेशानियां बढ़ सकती हैं। निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करने में आपको कठिनाइयां होंगी।