गर्दन की बढ़ी हुई चर्बी से हैं परेशान तो, अपनाएं ये तीन तरीके और फिर देखें कमाल

इस भाग दौड़ और टेंशन भरी जिदंगी ने सबसे ज्यादा प्रभावित किया है, तो वो है हमारे जीवनशैली को। और यही वजह है कि आज लोग कई तरह की बिमारियों से ग्रस्त हो रहे हैं। इन सभी बिमारियों में सबसे ज्यादा होने वाली बीमारी है मोटापा। मोटापे की वजह से आज हर तीसरा व्यक्ति परेशान है। वहीं मोटापे की वजह से ही लोगों को और भी गंभीर बिमारियां हो रही हैं। मोटापे का मतलब है शरीर में फैट जमना। मोटापे में जगह- जगह फैट तो दिखता ही है, साथ ही गर्दन में भी इसका असर साफ नजर आता है। जी हां, गर्दन के नीचे फैट जमने को डबल चिन कहा जाता है। डबल चिन न सिर्फ चेहरे की खूबसूरती को कम करता है बल्कि उससे आपका कॉन्फिडेंस भी कम होता है।

गर्दन के मोटापे को “टर्की नेक” के नाम से भी जाना जाता है। एक बार जब किसी को डबल चिन हो जाए तो दुबारा इसे आकार में लाना काफी ज्यादा मुश्किल होता है। लोग इसके लिए तरह- तरह के उपाए करते हैं, लेकिन फिर भी इसे निजात नहीं पाया जाता है। डबल चिन आपके मोटापे का सबसे बड़े संकेत है। कई मामलों में डबल चिन किसी बीमारी की वजह से भी हो जाता है। लेकिन अगर मोटापे की वजह से आपका डबल चिन बढ़ता ही जा रहा है, तो आप इससे बचने के लिए कुछ उपाए अपना सकते हैं। तो आइए आपको बताते हैं वो तीन उपाए, जिसे अपना कर आप भी अपने गर्दन की चर्बी से छुटकारा पा सकते हैं।

  1. खानपान में बदलाव– किसी भी बिमारी का सबसे बड़ा कारण होता है खानपान। जी हां अपने खानपान को सही कर के आप बहुत सी बिमारियों से बच सकते हैं। मोटापे की सबसे बड़ी वजह होती है कैलोरी। इसके लिए ये बहुत ही जरूरी है कि आप अपने हर रोज के खाने पीने में कैलोरी की मात्रा कम लें। क्योंकि ऐसा करने से न सिर्फ आपके गर्दन की फैट  कम होगी, बल्कि आपका मोटापा भी कंट्रोल होगा। इसके साथ ही फल और सब्जियों का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें। क्योंकि फलों और सब्जियों में कैलोरी काफी कम होती है और इनमें फाइबर, विटामिन्स और मिनरल्स प्रचुर मात्रा में पाएं जाते हैं। इससे आपके फैट को कम करने में मदद मिलती है। साथ ही फास्ट फूड का सेवन बिल्कुल न करें।

2. शारीरिक गतिविधियों को शामिल करना- वजन कम करने के लिए एक्सरसाइज करना सबसे जरूरी माना जाता है। खानपान के साथ व्यायाम भी फैट कम करने में बहुत ही ज्यादा कारगर साबित होता है। ऐरोबिक या कार्डियो व्यायाम करने से कैलोरीज कम करने और वजन घटाने में मदद मिलेगी। जब आप वजन कम करते हैं, तो आप ध्यान देंगे कि आपकी गर्दन के आसपास की वसा कम होने लगती है।

3. डॉक्टरों की सलाह जरूर लें- खानपान और व्यायाम करने के बावजूद भी अगर आपके गर्दन की चर्बी कम नहीं हो रही है, तो आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। क्योंकि कई बिमारियां ऐसी हैं, जिनकी वजह से गर्दन में फैट बढ़ जाता है। ऐसे में समय रहते डॉक्टर के पास जाना जरूरी होता है। हो सकता है कि डॉक्टर आपको सर्जरी की सलाह दे। इ जिसमे लिपोसक्शन, बोटोक्स, लेसर उपचार और नेक लिफ्ट्स जैसे कई उपायों के जरिए भी डबल चिन को कम किया जाता है।