fbpx

जाने आखिर दवाईयों की स्ट्रिप्स पर बनी लाल पट्टी का क्या मतलब होता है

इसमें कोई शक नहीं कि आम तौर पर जब लोग बीमार होते है या उन्हें कोई छोटी मोटी बीमारी होती है, तो वो किसी डॉक्टर के पास जाने की बजाय किसी मेडिकल स्टोर से जाकर दवा लाना ज्यादा बेहतर समझते है. हालांकि कई बार मेडिकल स्टोर वाले आपको ऐसी दवा भी दे देते है, जो आपकी सेहत के लिए हानिकारक होती है. अब जाहिर सी बात है कि मेडिकल स्टोर में दवा बेचने वाले लोग डॉक्टर तो नहीं होते, जो वो आपको सही दवा देंगे. इसलिए ये जरुरी है कि पहले आप डॉक्टर के पास ही जाए और फिर डॉक्टर जो दवा बोले वही खरीद कर ले. हालांकि अगर आप डॉक्टर के पास नहीं जाना चाहते है और आप सीधा मेडिकल स्टोर से दवा खरीदते है तो ऐसे में आपको कुछ बातों का ध्यान जरूर रखना चाहिए.

जी हां सबसे पहले तो पैसा बचाने के चक्कर में अगर आप कोई भी दवा खरीद लेंगे तो इससे भविष्य में जाकर आपको ही परेशानी का सामना करना पडेगा. तो चलिए अब आपको दवाईयों से जुडी कुछ ऐसी बातों के बारे में विस्तार से बताते है, जो आपके स्वास्थ्य को सही रखने में काफी मददगार साबित होंगी. गौरतलब है कि आप लोगो ने कई बार दवाईयों की स्ट्रिप पर लाल पट्टी सी बनी हुई जरूर देखी होगी. हालांकि दवाईयों पर ये लाल पट्टी सी क्यों बनी होती है, इसके बारे में आपने आज तक कभी गहराई से नहीं सोचा होगा. मगर कोई बात नहीं अगर आपने पहले इस बारे में नहीं सोचा, तो अब सोच लीजिये.

वैसे हम आपकी जानकारी के लिए बता दे कि जिन दवाईयों पर लाल पट्टी होती है, उसका मतलब ये होता है कि वो दवाईयां आप डॉक्टर की पर्ची के बिना नहीं ले सकते. जी हां बता दे कि कोई भी मेडिकल स्टोर वाला न तो बिना डॉक्टर की सलाह के उन दवाईयों को बेच सकता है और न ही इनका इस्तेमाल कर सकता है. दरअसल एंटीबायोटिक दवाओं के गलत इस्तेमाल को रोकने के लिए ही इन दवाओं पर ये खास लाल रंग की पट्टी बनी होती है. इसके इलावा आपने अक्सर दवाओं के पैकेट पर आरएक्स लिखा हुआ देखा होगा. मगर क्या आपने कभी सोचा है कि आखिर इसका क्या मतलब होता है ? क्या आपने कभी ये सोचा है कि क्या इन दवाओं को डॉक्टर की सलाह के बिना लेना चाहिए.

वैसे हम आपको बता दे कि अगर डॉक्टर पर्ची पर लिख कर दे, तभी आपको उन दवाओं को लेना चाहिए, वरना उनका सेवन नहीं करना चाहिए. जी हां वरना ये दवाएं आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक भी हो सकती है. गौरतलब है कि इन दवाओं को लेने की सलाह केवल वही डॉक्टर दे सकते है, जिनके पास नशीली दवाएं देने का लाइसेंस होता है. यानि अगर हम सीधे शब्दों में कहे तो मेडिकल स्टोर वाले ऐसी दवाएं नहीं बेच सकते. जी हां वास्तव में ये दवाएं केवल एक डॉक्टर ही आपको दे सकता है.

बरहलाल हमें उम्मीद है कि आगे से आप इन बातों का ध्यान जरूर रखेंगे और अपनी सेहत के साथ कोई खिलवाड़ नहीं करेंगे.