मुंबई में हुई भरी बारिश! 72 घंटों में एक ही परिवार के 13 लोगों की हुई मौत

मुंबई में जिस तरह से आंधी तूफ़ान और बारिश का कहर जरी है और थमने का नाम ही नही ले रहा है और जिसके कारन हमारे मुंबई सेहर की जनता कई परेशां हो चुकी है| जाणारी के मुताबिक मुंबई में हुई तेज़ बारिश और अंधी तुफा ने ले ली कई लोगो की जान और कई परिवारों को तो मौत के घात उतार दिया है| कई घर गिर गये और बहुत से छोटे कसबे के लोग काफी परेशानी का सामना कर रहे हैं| हमारे देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में पिछले दो दिन से इतनी तेज़ बारिश हो रही है की वहा के लोगो का जीना मुश्किल हो गया है|

मेट्रो सिटी मुंबई में आईओ ये तेज़ बारिश अब तक ई लोगो ओ मौत दे चुकी है और अभी भी इसका कहर रुकने का नाम नही ले रहा है|  देश की आर्थिक राजधानी मुंबई फिर से आसमानी आफत में पड़ गई है। आपको बता दे की मौसम विभाग की जानकारी के मुताबिक पिछले 72 घंटों में 13 लोगों की मौत हो गई है। और अभी भी इसका कहर बहुत तेज़ है और न जाने ये अभी कितनी जाने लेगा ये तो कोई नही बता सकता| रिपोर्ट्स के मुताबिक अधिकांश लोगों की मौत पानी में डूबने से हुई है। पानी का बहाव इतना ज्यादा थकी लोग अपने आपको पानी में जाने से नही बचा पाए और पानी के स्थ बह गये लोगो के स्थ सरः उनके घर भी पानी में दुबे हुए है|

मौसम विभाग ने पहले ही मौसम के संबंध में चेतावनी जारी की थी। लेकिन इसके बावजूद लोगों ने अरब सागर के किनारे बने भंवर से निकल नही पाए और व्ही फंसे रह गये| आपको बता दे की बहुत से लोगो की मौत बड़े गड्ढे में गिरनेसे हुई है, अचानक तूफान आने और बिजली गिरने से भी कई लोगो की जाने चली गयी| ये सभी मौते अलग-अलग हादसों के दौरान हुई है और अभी कुछ कहा नही जा सकता की अभी और कितनी जाने जाएँगी|

खबरों के मुताबिक आपको ये बता दे की बोरीवली की इमैकुलेट कॉन्सेप्शन कॉलोनी में एक ही परिवार के चार सदस्यों समेत पांच लोग रत्नागिरी के एक पिकनिक बीच पर डूब गये और सभी की एक साथ मौत हो गई। इनमें मोनिका डिसूजा जो की 44 साल की है सानोमी डिसूजा (22), रिचा डिसूजा (19) और मैथ्यू डिसूजा (18) शामिल है और ये सब  एक ही परिवार के थे। वहीं केननेथ मास्टर्स (56) उनके पारिवारिक दोस्त थे। सभी गणपतिपुले जाने के दौरान देवरुख के पास छोटे आरे-वारे बीच पर दुर्घटना का शिकार हो गए।

इस हादसे में वहीँ  दो लोगों की मौत नगर निगम की गलती की वजह से हुई। यहां निगम की ओर से नियुक्त किए गए एक निजी ठेकेदार ने गड्ढे के पास कोई चेतावनी नहीं दी थी। जिसके चलते वहा रहने वाले आनंद गुप्ता और उनकी बहन नंदिनी गड्ढे में गिर गए और दोनों की उसी समय मौत हो गई। वसई के पास स्थित कलाम बीच से भी दो युवकों के शव बरामद किए गए हैं। जो की अभी पहचान में नही आ रहे है| दो युवकों की और मौत हो गयी है और उनकी की शिनाख्त 18 वर्षीय राहुल राठौड़ और 17 साल के अभिनव शिंदे के रूप में हुई है।