अनेक रोगों का एक रामबाण इलाज है आंवला.

आंवला को आयुर्वेद में बहुत से औषधीय गुणों से भरपूर माना गया है, आपने भी आंवला के बहुत से गुणों के बारे में सुना होगा. आयुर्वेद की माने तो आंवला एक अकेला ऐसा फल है जिसमे सौ से ज्याद रोगों से लड़ने का अचूक गुण मौजूद होता है. विरामिन सी के गुणों से भपूर आंवला में इसके आलवा पोटासियम, कैल्शियम, मग्निसियम के साथ ही साथ फाइबर और आयरन भी काफी मात्रा में पाए जाते हैं जो की एक ह्यूमन बॉडी के लिए किसी रामबाण जैसा ही काम करता है. आज हम आपको इस पोस्ट के जरिये आंवला के बहुत औषधीय गुणों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में आज से पहले आप शयद ही जानते होंगें. तो आईये आपको बताते हैं की कौन कौन सी बीमारियों से लड़ने में आंवला आपकी मदद करता है.

सबसे पहले आपको बता दें की आंवला में क्रोमियम नाम का तत्व पाया जाता है जो की डायबिटीज के मरीजों के लिए काफी असरदार साबित होता है. जी हाँ आपको बता दें की क्रोमियम बॉडी में सुगर लेवल को कण्ट्रोल करने में काफी हद तक मददगार साबित होता है और इसके नियमित रूप से खाने में शामिल करने से सुगर की समस्या से हमेशा के लिए निजात पाया जा सकता है. बता दें की डायबिटीज के मरीजों को आंवले के रस में शहद मिलकर पीने की सलाह दी जाती है, सुबह शाम ऐसा करने से हाई सुगर लेवल को काफी हद तक कण्ट्रोल किया जा सकता है. यहीं नहीं बल्कि आंवला हार्ट के मरीजों के लिए भी काफी लाभदयक सबित होता है, बता दें की आंवले का सेवन कोलेस्ट्रोल लेवल को कम करता है और हार्ट ब्लॉकेज को भी ठीक करता है. इसके अलवा आपको बता दें की आंवला खाने से दिल की और भी तमाम तरह की बीमारियों से छुटकारा मिलता है.

बता दें की यदि आप रोजाना आंवले का मुरब्बा, जूस , अचार या आंवले के चूर्ण को अपनी डाइट का हिस्सा बना लें तो आपको यक़ीनन कभी भी गैस की समस्या या पेट से जुड़ी आम समस्या जैसे की अपच , कब्ज आदि की समस्या से कभी भी दो चार नहीं होना पड़ेगा क्यूंकि आंवला आपके पाचनतंत्र को मजबूत बनाता है और पेट में होने वाली सभी समस्याओं से मुक्ति दिलाता है. गौरतलब है की आंवला का उपयोग उन लोगों के लिए भी किसी रामबाण से कम नहीं है जो की अपने मोटापे की समस्या से निजात पाना चाहते हैं. जी हाँ बता दें की यदि सुबह शाम वजन कम करने के मकसद से खाली पेट आंवले का जूस पिया जाए तो इससे भी मोटापे की समस्या से निजात मिलता है. रोजाना आंवला खाने से इम्मुन सिस्टम मजबूत होता है और सर्दी जुखाम जैसी सीजनल रोगों से काफी हद तक छुटकारा मिलता है, इसमें मौजूद विटामिन सी की मात्रा इन रोगों से निजात दिलाने में काफी सहायक साबित होती है.

आपको बता दें की आंवले का सेवन आर्थराइटिस के मरीजों के लिए भी रामबाण का काम करता है, बता दें की आंवले में मौजूद कैल्शियम की मात्रा हड्डियों को मजबूत बनाता है और जोड़ों के दर्द से भी छुटकारा दिलाता है. ये एक ऐसा फल है जो की किसी भी उम्र के लोग खाएं इससे उन्हें फायदा ही होगा इसका कोई नुकसान नहीं है. आंवला महिलाओं के अनियमित पीरियड्स को भी ठीक करता है और उनदिनों होने वाले दर्द से भी काफी हद तक निजात दिलाता है.