बार बार होने वाले सिर दर्द को नहीं करें नज़रअंदाज़, होता है सेहत के लिए बेहद ही नुकसानदायक

आपने अक्सर देखा होगा कि शरीर में अक्सर ही समय समय पर कई तरह की बीमारियां होती रहती हैं, जिनमें से कुछ बीमारियां कुछ दिनों में समाप्त हो जाती हैं कुछ कई दिनों तक रह जाती है लेकिन कुछ ऐसी बीमारियां भी हैं जो बीमारी की श्रेणी में नहीं आते हुए भी लंबे समय तक आपके साथ बनी रहती है जैसे कि सिर दर्द। बता दें की एक तरह से देखा जाए तो यह कोई बीमारी नहीं है लेकिन अगर इस प्रकार किया जाता है बहुत बड़ी बीमारी बन सकती है असल में हम बात कर रहे हैं सिर दर्द की जो बार-बार समय समय पर होता रहता है कभी बहुत तेज कभी हल्का और अक्सर ऐसा होता है कि जब भी आप कभी अचानक से तेज रोशनी देखते हैं या तेज आवाज सुनते हैं तो आपके सिर में दर्द होने लगता है।

मगर आमतौर पर आप इस तरह के दर्द को नजरअंदाज कर देते हैं और कोई छोटी मोटी स्कोर पेन किलर खा कर सबको खत्म कर देते हैं लेकिन आपको बता दें कि यह लक्षण ब्रेन ट्यूमर जैसी बड़ी बीमारी के भी संकेत हो सकते हैं लेकिन आपको बता दें कि यह लक्षण ब्रेन टयूमर जैसी बड़ी बीमारी के भी संकेत हो सकते है। इस तरह की समस्या से बचने के लिए आपको आफै ज्यादा सावधान रहने की आवश्यकता होती है।

बताते चलें कि ब्रेन टयूमर मस्तिष्क में पाई जाने वाली कोशिकाओं को बेहद ही असामान्य तरीके से या पर अनियंत्रित बढ़ोतरी की वजह से होता। है कई बार ऐसा भी होता है कि कुछ ऐसी कोशिकाएं खुद-ब-खुद बढ़ने लगती है या पनपने लगती हैं, जो काफी हद तक खतरनाक होते हैं और इस तरह की कोशिकाएं जब काफी बड़ी हो जाती है तो उसे टयूमर करो मिल जाता है। आपको यह जान लेना बहुत ही आवश्यक है की ब्रेन टयूमर दिमाग के अंदर शुरू होता है और फिर यह तेरी धीरे करते हुए आपके पूरे शरीर में फैल जाता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें की ब्रेन टयूमर जैसी बीमारी किसी भी उम्र में किसी को भी हो सकती है और फिलहाल वैज्ञानिकों के तमाम रिसर्च आदि के बावजूद अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है कि आखिर यह होता किस कारण से है। हालांकि एक बात सामने आई है कि ब्रेन ट्यूमर होने का जेनेटिक कारण काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। सिर दर्द, चलने में संतुलन ना बन पाना या फिर यादश्त का कमजोर होना आदि इसके मुख्य लक्षण हैं। वैसे आपको यह भी बताते चलें कि जो लोग काफी ज्यादा मोबाइल फोन या फिर किस तरह के इलेक्ट्रॉनिक गैजेट आदि का इस्तेमाल करते हैं उसने से निकलने वाले विकिरण तरह तरह के कैंसर और प्रेम की वजह से समस्याओं को उभारती है हालांकि यह बहुत ही ज्यादा गंभीर मुद्दा है लेकिन अभी तक किसी भी तरह के तथ्य को पूरी तरह से सही साबित नहीं किया जा सकता है आपको बता दें कि अगर कोई भी व्यक्ति या फिर इस तरह की बीमारी से पीड़ित है तो उसके लिए रेडियोथेरेपी, कीमोथेरेपी, सर्जरी, दवाइयां आदि के माध्यम से इलाज किया जा सकता है।