आइए जानें, उम्र के हिसाब से कितने घंटे सोना होता है जरूरी

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि अच्छे सेहत के लिए अच्छी नींद लेना भी बेहद जरूरी है। जी हां क्योंकि नींद ही एक ऐसी चीज है जिसके जरिए आप अपने पूरे दिन के थकान और तनाव से मुक्ति ले सकते हैं और फिर अगली सुबह तरोताजा महसूस करते हैं। जी हां भरपूर नींद ही आपके सब मर्जों की दवा है, यह सबसे बढि़या दर्द निवारक भी है। अगर आपको रात में अच्‍छी और भरपूर नींद आती है इसका मतलब यही है कि आप स्‍वस्‍थ हैं और आपकी दिनचर्या स्‍वस्‍थ तरीके से चल रही है। डॉक्टरों का भी मानना यही है कि भरपूर नींद लेने से शरीर में कोलेस्‍ट्रॉल का स्‍तर सामान्‍य रहता है, इसके अलावा रक्‍त संचार भी अच्‍छे से होता है। यह एक बेहतरीन दर्दनिवारक होने के साथ-साथ शरीर को स्‍वस्‍थ रखने में भी मदद करता है।

जी हां तो आज हम आपको इसी बारे में बताने जा रहे हैं कि आखिर व्यक्ति को अपने उम्र के हिसाब से आपको कितने घंटे की नींद लेनी चाहिए। ये बात तो सच है कि हम सभी मनुष्यों के लिए नींद अति आवश्यक है। इससे शरीर स्वस्थ्य बना रहता है और इससे शरीर की रोक प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है। शारिरिक गतिविधियों को भी अच्छे से संचालित करने के लिए नींद जरूरी है।

सबसे पहले बात करते हैं 4-11 माह के बच्चों की तो बता दें कि इनको कम से कम 12 से 15 घंटे की नींद लेने की नींद लेनी चाहिए। पर कुछ बच्चे ऐसे होते हैं जो काफी कम नींद लेते हैं तो बता दें कि उनको कोशिश करें की आप 10 घंटे की नींद दिलाएं ये उनके लिए पर्याप्त होगा। वहीं ध्यान रहे कि उनकी नींद कभी भी 18 घंटे से अधिक नहीं होनी चाहिए।

वहीं अब बात करते हैं 1 से 2 साल के बच्चों की तो इनको करीब 11 से 14 घंटों की नींद की सलाह दी गई है लेकिन कम से कम 9 से 16 घंटे तक की नींद इनके लिए चल सकती है।

इसके अलावा अब बात करें स्कूल जाने से पहले की उम्र के बच्चे की यानि की जिनकी उम्र 3-5 साल होती है तो इनको करीब 10 से 13 घंटों की नींद की सलाह दी जाती है। लेकिन इन्हें कम से कम 8 घंटे और ज्यादा से ज्यादा 14 घंटे की नींद लेनी चाहिए।

इसके बाद बात करते हैं स्कूल जाने की उम्र के बच्चे 6-13 साल के लिए 7 से कम और 11 से ज्यादा घंटे की नींद सही नहीं मानी जाती।

वहीं बताते चलें कि किशोरावस्था के उम्र वालें बच्चों को 14-17 साल के लिए करीब 8 से 10 घंटे की नींद की सलाह दी गई है लेकिन 7 से कम और 11 से ज्यादा घंटों की नींद को सही नहीं मानता।

अब बारी आती है नौजवान वयस्कों की यानि की 18-25 साल के लोगों के लिए तो उनको 7-9 घंटों की सलाह दी गई है लेकिन ये 6 घंटे से कम और 11 घंटे से अधिक नहीं होनी चाहिए।

इसके बाद हम बात करते हैं 26-64 वर्ष के लोगों के लिए 7-9 घंटों की सलाह दी गई है लेकिन ये 6 घंटे से कम और 11 घंटे से अधिक नहीं होनी चाहिए।

वहीं अब बारी आती है 65 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के लिए यानी की बुजुर्ग व्यक्तियों की तो इन्हें करीब 7-8 घंटे की नींद की सलाह दी गई है। इन्हें 5 घंटे से कम और 9 घंटे से ज्यादा नहीं सोना चाहिए।

यह भी पढ़ें : 

अगर आपको भी है नींद ना आने की बीमारी तो इन दो चीजों का सेवन जरूर करें, दवा से भी ज्यादा है असरदार