महाशिवरात्रि के दिन भूलकर भी ना करे ये 3 काम, नाराज़ हो सकते हैं भोलेनाथ

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते हैं इस वर्ष 4 मार्च को महाशिवरात्रि आने वाली हैं. ऐसे में हर कोई इस दिन भगवान शिव को प्रसन्न करने में लग जाएगा. ये दिन भगवान शिव के लिए बहुत ख़ास होता हैं. ऐसा कहा जाता हैं कि महाशिवरात्रि के दिन जिस व्यक्ति को भोलेनाथ का आशीर्वाद मिल जाता हैं उसके जीवनभर के सभी दुःख दर्द समाप्त हो जाते हैं. इसके विपरीत यदि आप ने महाशिवरात्रि के दिन भोलेनाथ को नाराज़ कर दिया तो आपको उनका भयंकर प्रकोप देखने को मिल सकता है. इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज हम आपको 3 ऐसे कामो के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें आपको भूलकर भी महाशिवरात्रि के दिन नहीं करना हैं. यदि आप ऐसा करते हैं तो शिवजी नाराज़ हो जाएंगे और आपके ऊपर दुखो का पहाड़ टूट जाएगा.

1. शिवरात्रि के दिन भूलकर भी किसी महिला का अपमान नहीं करना चाहिए. जो व्यक्ति महिलाओं की इज्जत नहीं करता हैं या उनके ऊपर किसी भी प्रकार की हिंसा का इस्तेमाल करता हैं शिवजी उन्हें कभी माफ़ नहीं करते हैं. शिवरात्रि के दिन लगभग सभी महिलाऐं शिवजी की उपासना करती हैं. उनके ऊपर शिवजी का आशीर्वाद रहता हैं. ऐसे में यदि कोई व्यक्ति इ महिलाओं को परेशान करता हैं तो रिटर्न में उसे शिवजी के प्रकोप को झेलना पड़ता हैं. उस व्यक्ति के साथ कुछ बुरा घटित होता हैं.

2. शिव मंदिर में अपशब्दों का इस्तेमाल भूलकर भी नहीं करना चाहिए. महाशिवरात्रि के दिन कई लोग मंदिर में भोलेनाथ के दर्शन को जाते हैं. ऐसे में आपको यहाँ बिलकुल साफ़ मन के साथ प्रवेश करना चाहिए. लेकिन कई बार किसी से फोन पर बात करते हुए या अपनी रोज की आदत के चलते लोगो की जुबान पर कुछ अपशब्द आ जाते हैं. यदि आप जाने या अंजाने में शिव मंदिर के अंदर इन अपशब्दों का इस्तेमाल कर लेते हैं तो आपको घंघोर पाप लगेगा. इसका भुगतान आपको भविष्य में करना पड़ेगा. इस वजह से आपके साथ कुछ बहुत बुरा हो सकता हैं. आपको सजा मिल सकती हैं. इसलिए शिव मंदिर में प्रवेश करते समय अपनी जुबान सोच साझ कर चलाए.

3. ऐसा कहा जाता हैं कि महाशिवरात्रि के दिन भगवान से मांगी हर मुराद पूर्ण होती हैं. इसलिए इस दिन कई सारे लोग अपनी मनोकामनाओ की प्रार्थना करते हैं. ऐसा करते समय कुछ लोग इस इच्छा पूर्ण होने के लिए मन्नत भी ले लेते हैं. इस स्थिति में आप एक बात गाठ बाँध लीजिये कि यदि आप शिवजी के सामने कोई मन्नत लेते हैं और बाद में आपकी इच्छा पूर्ण होती हैं तो भूलकर भी अपनी ली गई इस मन्नत को भूलिएगा नहीं. यदि आप इच्छापूर्ति के बाद भी ये मन्नत भूल जाते हैं तो आपको शिवजी के गुस्से का सामना करना पड़ सकता हैं जो कि काफी खतरनाक साबित होगा. इसलिए आपको भलाई इसी में हैं कि आप जो भी मन्नत मांगे वो सोच समझकर ही मांगे और उसे कहीं लिख कर रख ले ताकि बाद में उसे पूरा करने के समय आप भूले नहीं.

दोस्तों यदि आपको ये जानकारी पसंद आई तो इसे दूसरों के साथ जरूर शेयर करे.