बड़ी खबर : पाकिस्तान को एक बार फिर से महंगी पड़ी एलओसी पर गुस्ताखी, भारत ने तबाह कीं 5 चौकियां

पिछले काफी समय से भारत व पाकिस्तान में तानातनी बनी हुई है। जी हां पुलवामा अटैक के बाद से भारत हर तरफ से पाकिस्तान को बर्बाद कर देने के फिराक में हैं इतना ही नहीं ये भी बता दें कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर यानि की पीओके में भारतीय वायुसेना की ओर से जो एयरस्ट्राइक किए गए उसके बाद से पाकिस्तान बौखला गया है और तो और इस एयरस्ट्राईक के बाद एलओसी पर भी तनाव पूर्ण स्थिति बनी हुई है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पाकिस्तान की ओर से लगातार गोलीबारी की जा रही है। इतना ही नहीं सियालकोट सेक्टर में पाकिस्तान ने टैंक का भी इस्तेमाल किया है ऐसा लग रहा है कि भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान पर जो एयरस्ट्राइक किया है। उसके बाद से लगता है कि पाकिस्तान बौखलाया हुआ है और ऐसे में कुछ भी हरकत कर रहा है इसलिए पीओके में भारतीय वायुसेना ने 10 जवानों के घायल होने की खबर है, इतना ही नहीं भारतीय सेना माकूल जवाब दे रही है।

बता दें कि बालाकोट, चकोटी समेत 13 टेररिस्ट ठिकानों पर हुई एयरस्ट्राईक के बाद पाकिस्तान की ओर से एलओसी पर सीजफायर का उल्लंघन मंगलवार पूरी रात और बुधवार सुबह भी किया गया। पाकिस्तान की ओर से मनजोत पुंछ, नौशेरा राजौरी, अखनूर और सियालकोट सेक्टरों में गोलीबारी और मोर्टार दागे गए। भारत की ओर से जवाबी कार्रवाई के बाद डरे पाकिस्तान ने सियालकोट सेक्टर में टैंक का भी इस्तेमाल किया।

पाकिस्तान की ओर से की जा रही गोलीबारी का भारत कड़ा जवाब दे रहा है। बता दें कि भारतीय सेना की ओर से की जा रही गोलीबारी में पाकिस्तान के 5 पोस्ट तबाह हो गए हैं। इसके अलावा कई पाकिस्तानी रेंजर्स घायल बताए जा रहे हैं। भारतीय सेना दुश्मन को भारी नुकसान पहुंचाया है। ये तो आप सभी जानते ही होंगे कि पुलवामा में हुए घटना का मुहतोड़ जवाब देने के लिए भारत ने पुख्ता तैयारी थी और इसके बाद ही भारतीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल संग सेना ने रणनीति तैयार की थी।

एयर स्ट्राइक से पहले डोभाल के संग वायुसेना, थलसेना और खुफिया विभाग के अफसरों ने बैठक की थी। इस दौरान उन्होने पाकिस्तान में उन टेररिस्ट ठिकानों को चिन्हित किया और पाकिस्तान के बालाकोट, खैबर पख्तूनख्वा में जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानो की पहचान में आर्मी ने अहम भूमिका निभाई थी। इसके साथ ही साथ ये भी बता दें कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का कहना है कि एलओसी से 70 किलोमीटर भीतर जाकर एयरफोर्स ने टेररिस्ट कैंपों को तबाह किया।

जैसा कि हम सभी जानते ही है कि बिते मंगलवार को भारत ने पाक के घर में घुसकर पुलवामा का बदला लिया था। बालाकोट से लेकर मुजफ्फराबाद तक जैश के टेरर कैंपों पर बमबारी की गई थी। इस दौरान सभी टेररिस्ट के के अड्डों पर बमबारी के लिए मिराज-2000 विमानों का इस्तेमाल किया गया था।

यह भी पढ़ें :

पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान में टमाटर के दाम छू रहे आसमान , गुस्से में हर पाकिस्तानी के मुंह से निकला एक ही शब्द

पाकिस्तान को सबक सिखाने के बाद मेट्रो में आम लोगों के बीच पहुंचे पीएम मोदी, बच्चों को दिया आर्शीवाद

भारतीय फाइटर प्लेन को देख इस वजह से भागे थे पाकिस्तानी लड़ाकू विमान