सड़क बनाने के लिए मजदूर कर रहे थें खुदाई, मिट्टी हटाते ही दिखा कुछ ऐसा की लोगों के उड़े होश

आजकल सोशल मीडिया का जमाना है इसलिए आए दिन कई सारी खबरें सामने आती रहती है। कहीं भी किसी भी तरह खबरें हो सामने आने में चंद मिनटों का समय लगता है। वहीं आपको बता दें कि हाल ही में एक ऐसा ही मामला सामने आया है जो कि महाराष्ट्र के बीड जिले का है जहां पर सरकार ने सड़क बनाने का आदेश दिया था लेकिन हैरानी की बात तो तब हुई जब सड़क खुदाई कर रहे मजदूरों को ऐसी दुर्भल चीज मिली जिसे देखकर वह दंग रहे गए। भारत की धरती वैसे तो खुद ही एक चमत्कार है। जहां एक ओर गंगा जैसी पावन नदी बहती है तो दूसरी हिमालय पर्वत। इतना ही नहीं हिंदू हो या मुस्लिम हर धर्म को लेकर देश में आए दिन आस्था के चमत्कार देखने को मिलते हैं। इसबार भी कुछ ऐसा ही हुआ।

जानकारी के लिए बता दें कि मजूदरों को खुदाई में भगवान की एक प्राचीन मूर्ति मिली, जो कि सैकड़ों साल पुरानी बताई जा रही है। मजदूर उस समय हैरान रह गया जब एक काला सांप मूर्ति से आकर लिपट गया। समाचार चैनल खबर के मुताबिक, काला नाग लगभग तीन घंटे तक मूर्ति से लिपटा रहा। दरअसल हुआ ये कि बीड जिले में सड़क खुदाई करते समय अम्बेजोगई में प्राचीन मूर्ति के निकलने और उसके पास काले नाग की मौजूदगी होने की खबर चंद मिनटों में ही पूरे इलाके में आग की तरह फैल गई।

जिसके बाद देखते ही देखते आसपास के लोगों की भीड़ नाग और मूर्ति को देखने के लिए जुट गए मूर्ति मिलने के बाद वहां पर खुदाई का काम रोक दिया गया है। खुदाई में मूर्ति का आधा हिस्सा ही बरामद हुआ है जबकि बाकी के हिस्से की तलाश की जा रही है। इस मूर्ति की चर्चा हर तरफ होने लगी वहीं कुछ ही घंटों में ये पूरी तरह से सोशल मीडिया पर भी वायरल होने लगा। जी हां बताया जा रहा है कि यह मूर्ति भगवान सूर्य की है। यह पहली बार नहीं है कि इस इलाके के इस तरह की मूर्तियां मिली हैं। वहीं इस मूर्ति को लेकर जब इतिहासकारों से जानकारी लिया गया तो उनका मानना था कि ये मू‍र्ति संभवतः 11 शताब्दी के दौरान यादव साम्राज्य का कोई गांव यहां पर रहा होगा।

वहीं दूसरी तरफ मुर्ति मिलने के बाद जिले के आसपास के लोग वहां आकर पूजा पाठ कर रहे हैं। ये खबर जैसे ही सामने आई लोग एकजुट होने लगे और वहीं भगवान की मूर्ति देख उनके अंदर का आस्‍था भी जग गया। अभी भी वहां ये सब चीजों को देखने आने वालों का सिलसिला बढ़ता जा रहा है। फिल्‍हाल आपकी जानकारी के लिए बता दें कि  अभी तक इस मूर्ति के संबंध में भारतीय पुरातत्व विभाग ने साइट का दौरा नहीं किया है। लोगों का कहना है कि भारतीय पुरातत्व विभाग यहां आकर खुदाई करे। उन्हें यहां से कई पुरानी मूर्तियां मिल सकती हैं।

एकतरफ वैज्ञानिक इसके बारे में विस्‍तृत जानकारी इकट्ठा करना चाहते हैं तो वहीं दूसरी तरफ लोगों की आस्‍था को देखकर यही लगता है कि उनके अंदर भगवान को लेकर कितनी श्रद्धा है।