सीएम योगी की शानदार पहल, बेटियों की हत्या की तो खैर नहीं, शुरू हुई हेल्पलाइन 181

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री सीएम योगी आदित्यनाथ जब से सत्ता मे आए है तब से कोई न कोई नयी पहल कर रहे है जो हर मायने मे प्रदेश और जनता के लिए हितकारी हो रही है। आपको बता दे की हाल ही मे सीएम योगी गोरखपुर के विशेष दौरे पर थे और इसी दौरान उन्होने गोरखपुर समेत 11 जनपदों में “डायल 181” सुविधा लागू करने की घोषणा की है। आपको बाता दे कि डायल 181 से महिलाओं और बच्चो को सुरक्षा और चिकित्सा सुविधा के लिए इधर उधर नहीं भटकना पड़ेगा ना ही अब घर की बछु बेटियों को न्याय के लिए दर दर की ठोकरें खानी पड़ेगी।

आपको बता दे कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को महिला हेल्पलाइन ‘181 महिला आशा ज्योति लाइन’ व कन्या भ्रूणहत्या रोकथाम के लिए ‘मुखबिर योजना’ का शुभारंभ किया। आपको बता दे की मुख्यमंत्री योगी ने अपने सरकारी आवास पर आयोजित समरोह में 64 जिलों के लिए शुरू ‘181 महिला आशा ज्योति हेल्पलाइन’ रेस्क्यू वैन को हरी झंडी दिखाई। 64 नई रेस्क्यू वैन शुरू होने से यूपी के सभी जिलों की महिलाओं को इस योजना का लाभ मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 64 नई रेस्क्यू वैन शुरू होने से उप्र के सभी जिलों की महिलाओं को इस योजना का लाभ मिलेगा। पहले महिला हेल्पलाइन सिर्फ 11 जिलों में काम करती थी, लेकिन अब 75 जिलों में काम करेगी। सात दिन तक 24 घंटे खुला रहने वाला यह कॉलसेंटर महिलाओं की ताकत बनेगा और 24 घंटे व सातों दिन काम करेगा। इसके जरिए घरेलू हिंसा की शिकार महिलाएं मदद मांग सकेंगी।

सीएम योगी ने कहा कि शहर की अपेक्षा गांवों में बहुत भेदभाव देखने को मिलता है लेकिन अब अब सभी जिलों में रेस्क्यू वैन सेवाएं प्रदान की जाएँगी। कन्या भ्रूणहत्या रोकथाम के लिए ‘मुखबिर योजना’ का सबसे ज्यादा ध्यान 10 जिलों पर रहेगा। कार्यक्रम में महिला कल्याण मंत्री रीता जोशी, महिला कल्याण राज्यमंत्री स्वाति सिंह, स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही, मंत्री नंद गोपाल नंदी व एसपी बघेल मौजूद थे।

बताया जा रहा है कि मुखबिर योजना पर मुख्यमंत्री ने कहा कि भ्रूणहत्या की सूचना देने वालों को 10 हजार से दो लाख रुपए तक का इनाम दिया जाएगा। मुखबिर योजना की प्रोत्साहन राशि भी बढ़ाई गई है, पर इसके गलत इस्तेमाल को भी रोकना होगा।