शादी के बाद कॉमेडीक्‍वीन भारती ने किया इतना बड़ा फैसला, बोली बिल्कुल नहीं करूंगी ये काम

भारती सिंह जो अभी हाल ही में अपने शादी के कारण टॉप ट्रेंड में बनी रही लेकिन आज वो एक बार फिर से चर्चा में आ गई हैं। दरअसल अभी तो शादी का माहौल चल रहा था हर तरफ शादियां हो रही थी इसमें बॉलीवुड कैसे पिछे रह सकता था। वहीं इधर बीच विराट कोहली और अनुष्‍का शर्मा भी एक दूजे के हो गए। इन सबके बात अब बात आती है भारत में सदियों से चली आ रही रीतियों की जी हां हम उस रीति की बात कर रहे हैं जो हर लड़की को निभानी पड़ती थी यानि अपना सरनेम बदलने की तो बता दें कि अब ऐसी पुरानी सोच हमारे समाज में कम ही देखने को मिलेगे क्‍योंकि ये खयालात अब पुराने हो गए हैं।

ये दरअसल तब हुआ जब एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा को क्रिकेटर रोहित शर्मा ने शादी की मुबारकबाद देते हुए अपना सरनेम न बदले की सलाह दी थी। इतना ही नहीं इससे पहले कॉमेडियन क्वीन कही जाने वाली भारती सिंह ने भी कुछ ऐसा ही कहा था। हम सभी जानते हैं कि भारती सिंह और हर्ष लिंबाचिया की शादी हो गई है जिसके अनुसार भारती को अपना सरनेम लिंबाचिया रखना पड़ता लेकिन इसके बारे में भारती ने कहा था कि वह शादी के बाद अपना सरनेम नहीं बदलेंगी। वहीं आपको बता दें कि भारती के इस फैसले को उनके पति हर्ष लिंबाचिया को भी कोई दिक्कत नहीं है।

मीडिया में छपी खबर के अनुसार भारती कहती हैं कि उन्होंने अपना सरनेम नहीं बदला है। उनका कहना है कि शादी के बाद मैंने अपना सरनेम नहीं बदला है, शादी के बाद मैं भारती सिंह लिंबाचिया हो गई हूं। मेरे नाम के साथ अपना सरनेम न हटाने से मेरे पति को कई दिक्कत नहीं है। इतना ही नहीं उन्‍होंने हर्ष की तारीफ करते हुए कहा कि वो बहुत कूल है। हर्ष का मानना है कि सरनेम लगाना है तो लगाओ नहीं लगाना तो मत लगाओ उन्‍हें इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।

भारती बताती है कि ‘माता-पिता ने इतने साल पाला-पोसा, बड़ा किया। शादी के बाद उनका सरनेम छोड़ दो? आज लोग काफी फ्री माइंडे के हो चुके हैं। लड़कों को अब इन बातों से फर्क नहीं पड़ता। यानि आप सोच सकते हैं कि भारती व हर्ष की सोच कितनी अच्‍छी है और वो इन सब दकियानुसी बातों पर विश्‍वास नहीं करते हैं।

इनदोनों की शादी गोवा में भारती पारंपरिक रीति-रिवाजों के साथ हुई। फैंस को दोनों की शादी का तब से इंतजार था जब से भारत ने सगाई की थी।