नियम से प्रतिदिन मात्र 15 सेकंड ताली बजाने से दूर हो सकते हैं कई असाध्य रोग

आज हमारे जीवन में बढ़ रही लगातार आधुनिकता से जिस तरह हमारा जीवन दिन-प्रतिदिन आरामदायक बनता जा रहा है ऐसा पहले के समय में नही हुआ करता था। आज इसी आराम के चक्कर में लोगों ने अपनी पूरी की पूरी जीवनशैली ही बादल कर रख ली हुई है जिसकी वजह से उनका सवास्थ्य हमेशा किसी ना किसी वजह से बिगड़ा रहता है। वैसे तो हर लोग सभी कोई ना कोई एक्ससरसाइज़ करते रहते है और कभी कभी तरह तरह का आयोगा आदि। बताना चाहेंगे की हालांकि इस सब से कई बार शरीर को निश्चित रूप से फायदा तो होता ही है मगर कई बार ऐसा भी होता है की समय की कमी और काम की अधिकता की वजह से वो इस नियम को बराबर नहीं रख पाते है जिसकी वजह से शरीर एक बार फिर से अनचाही बीमारियों का शिकार बन जाता है।

आपको बताना चाहेंगे की जिस तरह हर ताले की एक चाबी होती है कुछ उसी तरह अगर हम अपने दोनों हाथों से ताली बजते है तो ऐसा बजाईजाता है की गई अपनी पूरे जीवनभर में कभी बीमार ही नहीं पड़ेंगे। जी हाँ, आप एकदम सही सुन रहे है। असल में आपको बता दें की ताली हमारे आजीवन स्वस्थ रहने की एक तरह से मास्टर चाबी है जो हर तरह के रोगों से बचाए रखने में हमारी पूरी मदद करता है।

एक्यूप्रेशर के बारे में आपने सुना ही होगा, आपको बता दे की ताली बजाना भी काफी कुछ इसी सिद्धांत पर आधारित है जो इसके अनुसार शरीर को संचालित करने वाले सारे पॉइंट जो भी हाथ और पैरों के तलवों में ही होते हैं उनमे रक्त का बराबर संचार करता है। ऐसा कहा जाता है की अगर इन सभी बिंदुओं पर उचित तरह से दबाव डाला जाए तो इसमे कोई असन्देह नहीं है की मनुष्य अपने पूरे जीवन में निरोगी रह सकता है और आपको यह भी बता दे की ऐसा हम ही नही कह रहे है बल्कि इस बात का उल्लेख प्राचीन समय में उज्जैन के ऋषि मुनि लोग भी किए हुए है।

ऐसा बताया जाता है की जब भी आप ताली बजाते है तो इससे आपके शरीर का तापमान बढ़ता है और इस वजह से आपके शरीर में बढ़ा हुआ या फिर बढ़ रहा कोलेस्ट्रॉल पिघलने लगता है। ठीक इसी तरह अंगूठे के नीचे बने गद्दीनुमा स्थान पर अगर सही से दबाव पढ़ता है तो उसमें उपस्थित रक्त की थैलियां रक्त को विपरीत दिशा में संचालित करने लगती हैं, और ऐसा होने से रक्त की धमनियों में आ रही किसी भी तरह की रुकावट तत्काल ही दूर हो जाती है  और ऐसा होने से काफी हद तक हृदय को भी आराम मिलता है जिससे आपको हृदयघात का भी खतरा कम हो जाता है।

आपको बता दे की यदि आप भी चाहते है की आप हमेशा स्वास्थ्य रहे तो आपको ज्यादा कुछ नहीं बल्कि नियमित रूप से प्रतिदिन सिर्फ 15 से 20 सेकंड ताली बजाईये और नहाते वक़्त पैरों के तलवों को अच्छी तरह से रगड़ लें, ऐसा करने से आपको बता दे की कभी भी डॉक्टर के पास जाने की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी।