महिला टीचर से लगाव हुआ तो उसके साथ रहने लगी बेटी, माँ ने विरोध किया तो कर दिया ये घटिया काम

आप लोगो ने आज तक ‘लिव इन’ में रहने वाले कई किस्से सुने होंगे. आमतौर पर इसमें लड़का और लड़की का प्रेमी जोड़ा बिना शादी रचाए एक ही घर में साथ रहता हैं. लेकिन आपको जान हैरानी होगी कि गाजियाबाद के कविनगर में रहने वाली 18 वर्षीय एक छात्रा को अपनी महिला टीचर से इतना लगाव हो गया कि वो घर छोड़ अपनी टीचर के साथ ही रहने लगी. इतना ही नहीं जब उसकी माँ ने इस बात का विरोध किया तो उसने महिला टीचर के साथ मिलकर उन्हें मौत के घाट उतार दिया. आइए विस्तार से जाने क्या हैं पूरा मामला…

महिला टीचर साथ लिव इन में थी छात्रा

प्रतीकात्मक फोटो

जानकारी के मुताबिक ये पूरी घटना दिल्ली से सटे गाजियाबाद के कविनगर की हैं. इस इलाके में रहने वाले सतीश कुमार का आरोप हैं कि उसकी 18 वर्षीय बेटी रश्मि को उसकी स्कूल टीचर निशा गौतम ने झांसा देकर फसाया हैं. रश्मि निशा से काफी समय से पढ़ती आ रही थी. पिता के अनुसार निशा ने उनकी बेटी रश्मि को अपने जाल में फंसाया हैं जिसकी वजह से उसने अपना घर छोड़ महिला टीचर के साथ रहना भी शुरू कर दिया था.

छात्रा और महिला टीचर पर लगा हत्या का आरोप

प्रतीकात्मक फोटो

सतीश कुमार एक कारोबारी हैं. वो इस इलाके में अपनी पत्नी पुष्प, बड़ी बेटी रश्मि और छोटी बेटी के साथ रहते हैं. 9 मार्च को सतीश के पास उसकी छोटी बहन का फोन आया कि माँ खून से लतपत घर में पड़ी हैं. इसके बाद पीड़ित माँ को अस्पताल ले जाया गया जहाँ उसने दम तोड़ दिया. इस घटना के बाद पिता सतीश ने अपनी बड़ी बेटी रश्मि और महिला टीचर निशा के खिलाफ पुलिस में गैरइरादतन हत्या का केस दर्ज करवाया.

टीचर से लगाव बना था माँ बेटी के बीच झगड़े की वजह

प्रतीकात्मक फोटो

जानकारी के मुताबिक मृतिका को अपनी बेटी का टीचर के साथ रहना बिलकुल पसंद नहीं था. इस बात को लेकर माँ बेटी के बीच अक्सर लड़ाई भी होतो रहती थी. सूत्रों कि माने तो 9 मार्च वाले दिन बेटी रश्मि और महिला टीचर निशा दोनों ही कविनगर स्थित घर में थे. यहाँ माँ बेटी में लड़ाई हो गई थी. ये लड़ाई इतनी ज्यादा बड़ी कि बेटी रश्मि ने गुस्से में आकर एक भारी सामान अपनी माँ के सिर पर दे मारा. सामान के लगने की वजह से माँ वहीँ बेहोश होकर गिर पड़ी. इसके बाद आरोपी लड़की की छोटी बहन जब घर आई तो रश्मि और निशा वहां से चले गए. छोटी बेटी ने माँ को खून से लतपत देखा तो इसकी सुचना अपने पिता सतीश को दी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जया गया जहाँ वो बच नहीं सकी.

हत्या के बाद फरार हुए दोनों आरोपी

इलाके के एसपी आकाश तोमर के अनुसार आरोपी बेटी रश्मि और महिला टीचर निशा के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया गया हैं. हालाँकि हत्या की असली वजह और महिला टीचर व छात्रा के बीच के संबंधो के बारे में अभी कोई पुख्ता जानकारी नहीं मिली हैं. हत्या के बाद दोनों ही आरोपी फरार हैं. पुलिस इन दोनों की तलाश कर रही हैं.