नेतन्याहू की पत्नी सारा ने पीएम मोदी को गले लगाने के लिए जब हाथ आगे बढ़ाया तो जाने फिर मोदी जी ने क्या किया

अगर राजनीतिक गलियारों की बात करे तो ये तो सब जानते है कि इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू अपनी पत्नी सारा नेतन्याहू के साथ अपनी छह दिवसीय भारत यात्रा के दौरान दिल्ली पहुँच चुके है. ऐसे में पीएम मोदी द्वारा उनका गर्मजोशी से स्वागत करना तो बनता है. बता दे कि पीएम मोदी खुद प्रोटोकॉल को तोड़ कर अपने दोस्त का स्वागत करने के लिए पालम एयरपोर्ट पर पहुंचे थे. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि दोपहर करीब डेढ़ बजे नेतन्याह के विमान ने पालम एयरपोर्ट पर लैंड किया था. जी हां ऐसे में नेतन्याह के एयरपोर्ट पहुँचने के बाद विमान से नीचे उतरते ही पीएम मोदी ने उन्हें बड़ी गर्मजोशी के साथ गले लगा लिया.

यहाँ तक कि दोनों नेताओ ने आपस में बड़े प्यार से हाथ मिला कर और हाथ उठा कर दोनों देशो की खूबसूरत दोस्ती का भी संकेत दिया. बता दे कि एयरपोर्ट से नेतन्याहू और पीएम मोदी सीधा तीन मूर्ति के लिए रवाना हो चुके है. मगर इस दौरान एक ऐसा वाक्या हुआ, जिसे बहुत ही कम लोगो ने नोटिस किया. तो चलिए आपको भी इस वाक्या से रूबरू करवा देते है. दरअसल बात ये है कि नेतन्याहू से मिलने के बाद पीएम मोदी उनकी पत्नी सारा नेतन्याहू से मुलाक़ात करने के लिए आगे बढ़ गए थे. वही सारा नेतन्याहू ने पीएम मोदी को गले लगाने के लिए अपना हाथ आगे बढ़ाया था. मगर हमारे पीएम मोदी ने भारतीय संस्कृति का परिचय देते हुए उन्हें गले नहीं लगाया.

जी हां उन्होंने सारा नेतन्याहू को गले तो नहीं लगाया, लेकिन उनसे गर्मजोशी से हाथ जरूर मिला लिया. इसके बाद उन्होंने नेतन्याहू की पत्नी से थोड़ी देर के लिए बातचीत भी की. बस इसके बाद बेंजमिन नेतन्याहू और मोदी जी ने एक साथ हाथ उठा कर दोनों देशो की दोस्ती का भी संकेत दे दिया. वैसे आपको जान कर ताज्जुब होगा कि पंद्रह साल में यह पहला मौका है जब इजराइल का कोई प्रधानमंत्री भारत के दौरे पर आया हो. जी हां इससे पहले साल 2003 में पूर्व इजरायली प्रधानमंत्री एरियल शोरों भारत आये थे. गौरतलब है कि अपने छह दिन के दौरे में नेतन्याहू दिल्ली के इलावा हैदराबाद, अहमदाबाद और आगरा भी जायेंगे. हालांकि हमें इस बात की ख़ुशी है कि नेतन्याहू जी को पीएम मोदी का दोस्ती वाला अंदाज काफी पसंद आया.

बरहलाल हम तो यही उम्मीद करते है कि पीएम मोदी और नेतन्याहू यानि भारत और इजराइल में जो दोस्ती अब हुई है, वो सालो साल ऐसे ही बनी रहे.