फिल्म पद्मावत में सिर्फ खिलजी ही नहीं, इस विलेन ने भी जीत लिया है दर्शकों का दिल, जाने इसकी असली कहानी

फिल्म पद्मावत को लेकर विवाद, विरोध और फिर रिलीज तो हमने देख ही लिया । इतने विरोध और बवाल के बाद आखिर ये फिल्म रिलीज भी हुई और ब्लॉकबस्टर भी। वहीं फिल्म के किरदारों की भी खूब सराहना की जा रही है। फिल्म रिलीज के बाद जहां रणवीर सिंह, दीपिका पादुकोण और शाहिद कपूर की खूब चर्चा हो रही है। वहीं फिल्म में विलेन अलाउद्दीन खिलजी बने रणवीर सिंह की एक्टिंग को लोग सबसे ज्यादा पसंद कर रहे हैं। वहीं फिल्म में एक और विलेन के रोल में नजर आए एक और एक्टर हैं, जिन्होंने अपनी एक्टिंग से सबका दिल जीत लिया। जी हां हम बात कर रहे हैं फिल्म में अलाउद्दीन खिलजी के सहयोगी बने मलिक कफूर की।

फिल्म देखने के बाद मालूम पड़ता है कि छोटी सी भूमिका से किस तरह लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा जाता है, ये इस एक्टर को बखूबी आता है। इनका रीयल नेम है जिम सरभ। फिल्म पद्मावत में जिम सरभ ने अलाउद्दीन खिलजी के सहयोगी की भूमिका निभाई है। फिल्म में उनके और खिलजी के बीच समलैंगिक रिश्ते को भी दिखाया गया है। इस किरदार को जिम ने जिस तरह निभाया है, उसकी काफी ज्यादा तारीफें हो रही हैं। जिम सरभ बेहद खुश हैं कि उन्हें इस फिल्म से दर्शकों का प्यार मिल रहा है। वह फिल्म में मलिक कफूर के किरदार में हैं, जो हर वक्त खिलजी के वफदार बन रहते हैं। आइए आपको मलिक कफूर के बारे में वो बताते हैं जो आपने फिल्म में नहीं देखी होगी।

 

1297 ईसवी में अलाउद्दीन खिलजी ने गुजरात पर हमला किया। इतिहासकार बरनी के अनुसार, इस अभियान में गुजरात में पाटन के राजा कर्ण सिंह राज्य छोड़कर भाग गया। कर्ण सिंह की रानी कमला देवी को खिलजी के सामने पेश किया गया। खिलजी ने कमला देवी से शादी कर उन्हें हरम में भेज दिया। ये किसी मुसलमान बादशाह से हिंदू रानी/राजकुमारी की पहली शादी थी। इसके साथ ही खिलजी की नज़र एक खूबसूरत जवान लड़के मलिक मानिक पर पड़ी। खिलजी ने उस गुलाम को लाने वाले को हज़ार दीनार दिए और मानिक को बंधुआ बनवाकर अपने पास रख लिया। इसके बाद के इतिहास में मलिक मानिक को मलिक कफूर के नाम से जाना जाता है। मलिक काफूर ने अलाउद्दीन खिलजी के जनरल के तौर पर तमिलनाडु तक जीत दर्ज की। काफूर इतनी बड़ी जीत दर्ज करने वाला पहला सेनानायक है। काफूर ने ही वारंगल के अभियान में कोहिनूर हीरा लूटा। हिंदुस्तान के इतिहास में कोहिनूर का ज़िक्र यहीं से शुरू होता है।

अब अगर बात करें फिल्म में कफूर का रोल प्ले करने वालेे जिम सरभ की तो ये जिम सरभ की पहली फिल्म नहीं थी। इससे पहले भी जिम सोनम कपूर की फिल्म नीरजा में नजर आ चुके हैं। इस फिल्म में जिम ने एक आतंकवादी का किरदार निभाया था। खैर अब बात पद्मावत की तो फिल्म पद्मावत को मिले शानदार रिस्पोंस के चलते जिम को एक बंगाली फिल्म हाथ लगी है। आदित्‍य विक्रम सेनगुप्‍ता के निर्देशन में बनने वाली ‘जोनकी’ नाम की बंगाली फिल्‍म में जिम 80 साल की महिला के प्यार में पागल है।