पद्मावत फिल्म में नजर आने वाली इन गलतियों को गौर से देखने के बाद भी बता पाना है मुश्किल, जाने कौन सी है वो गलतियां

संजय लीला भंसाली की मशहूर फिल्म पद्मावत आखिरकार लाख विरोध के वाबजूद भी बड़े परदे पर रिलीज़ होगयी हैं और लोग इस फिल्म को खूब पसंद भी कर रह रहे हैं. फिल्म की भव्यता और एक्टरों द्वारा किये गए धांसू एक्टिंग ने इस फिल्म को बेहद ख़ास बना दिया है. लेकिन इस फिल्म में कुछ गलतियां भी हैं जिन्हें लोग फिल्म के भव्य दृश्यों के बीच शयद नहीं भांप पाए होंगे. आज हम आपको इस ऐतिहासिक फिल्म के कुछ दृश्यों में फिल्माएं गए गलतियों को बताने जा रहे हैं जिसे जानने के बा दापा भी कह उठेंगे की वाकई इन गलतियों को पहचानना बेहद मुश्किल होता.

फिल्म के इन दृश्यों में नजर आई है भाड़ी मिस्टेक

पहली गलती

ऊपर दिखाया गया ये दृश्य फिल्म के उस हिस्से का है जब महाराजा रतन सिंह उर्फ़ शाहिद कपूर युद्ध के लिए जा रहे होते हैं और महारानी पद्मावती उर्फ़ दीपिका पादुकोण महाराज के तिलक के लिए आरती की थाली ले कर आती है. इस सीन मी रतन सिंह रानी पद्मावती का एक हाथ अपने हाथों में पकड़े होते हैं और तभी उनके चुनरी का एक हिस्सा उनके कंधे से सड़क जाता है लेकिन अगले ही सीन में चुनरी वापिस अपने स्थान पर होता है. अब ये बात समझ से पड़े है की जन महाराज पद्मावती का एक हाथ पकडे होते हैं और दुसरे हाथों से वो थाली पकड़ी होती हैं तो फिर चुनरी कैसे ठीक होगयी .

दूसरी गलती

फिल्म में दूसरी गलती आप तब पकड़ सकते हैं जब फिल्म का  किरदार अलाउद्दीन खिलजी उर्फ़ रणवीर सिंह एक भाड़ी भीड़ के बीच युद्ध कर रहे होते हैं. आपको बता दी की युद्ध के इस सीन को ड्रोन से फिल्माया गया है लेकिन फिल्म में हजारों की संख्या में दिखाई देने वाली भीड़ दरअसल में नकली है. अगर आप गौर से देखे तो आपको दिखेगा की लोगों की भीड़ में साफ तौर पर सिर्फ दो लोग ही नजर आ रहे हैं बाकी के ब्लर दिखाई दे रहे हैं.

तीसरी गलती

फिल्म के एक सीन में जब रानी पद्मावती बनी दीपिका राजा रतन सिंह के पास एक गुलाल की थाल और एक कपड़ा लेकर आती है. अगले ही पल रजा रतन सिंह थाला में पड़े गुलाल पर अपने दोनों हाथ रखते हैं और फिर उस हाथ का छाप रानी द्वारा लाये गए कपडे पर छोड़ते हैं. अब ये बता वाकई ताज्जुब की है की जब गुलाल सूखा था तो उससे पड़े वाला निसान गीला कैसे होगया.

चौथी गलती

फिल्म का सबसे रौंगटे खड़े कर देना वाला सीन वो है जब रणवीर सिंह अलुद्दीन खिलजी के रूप में कच्छा मांस खाते दिखते हैं. लेकिन अगर आप इस दृश्य को गौर से देखे तो आपको साफ़ तौर पर पता चलेगा की असल में अलाउद्दीन बने रणवीर मांस को निगल नही रहे हैं बल्कि सिर्फ दांतों से चबा रहे हैं.

पांचवी गलती

फिल्म की पांचवी गलती तब नजर आती है जब अलाउद्दीन खिलजी के कुछ शागिर्द उनके झंडे को ऊपर करने के लिए करीबन सौ की संख्या में इकट्ठे होते हैं. लेकिन हंसी वाली बात है की जिस झंडे जो इतने सारे लोग उठाने की कोशिश करते हैं वो असल में बहुत ही नाजुक होता है जिसके लिए इतने लोगों की आवश्यकता नही होती है .

तो ये मशहूर फिल्म पद्मावत में फिल्माई गयी कुछ गलतियां जिन्हें आप बेशक नजर अंदाज कर असली फिल्म का मजा ले सकते है और आगर आपने अभी तक फिल्म नहीं देखी है तो एक बार जरूर देखें.