बॉलीवुड की वो फिल्में जो बनी तो लेकिन कभी रिलीज़ नहीं हो पायी, सिनेमाघरों में जाने से पहले ही उनपर लग गया बैन

कोई भी डायरेक्टर या प्रोडूसर जब कोई फिल्म बनाते हैं तो उनकी यही कोशिश होती है की उनकी फिल्म जल्द से जल्द सिनेमाघरों तक पहुंचे ताकि दर्शक उनकी फिल्म को देखे और उसकी प्रशंसा करें। कभी कभी कोई फिल्म ऐसी भी होती है जो दर्शकों को नहीं पसंद आती और इसलिए वो ज्यादा चल नहीं पाती है लेकिन इससे भी कम से कम डायरेक्टर या प्रोडूसर को लोगों के टेस्ट के बारे में तो पता चल ही जाता है। अब जरा सोचिये उन फिल्मों का क्या जिन्हें लोग इतनी मेहनत से बनाते हैं लेकिन वो फिल्म कहीं वजहों से सिनेमाघरों तक है पहुंच पाती। जी हाँ बॉलीवुड की भी बहुत सारी ऐसी फिल्में है जो बनी है तो है लेकिन कभी दर्शकों तक पहुंच नहीं पायी। आज हम आपको बॉलीवुड की इन्हीं कुछ फिल्मों के बारे में बताने जा रहे हैं जो किसी ना किसी वजह से बनने के वाबजूद भी दर्शकों तक नहीं पहुंच पायी।

मुन्ना भाई चले अमेरिका

इस लिस्ट में सबसे पहला नाम आता है विधु विनोद चोपड़ा की फिल्म मुन्ना भाई चले अमेरिका की। मुन्ना भाई सीरीज की दो फिल्में बॉक्स ऑफिस पर काफी सफल रही है और इसलिए निर्देशक विधु विनोद चोपड़ा ने इस फिल्म का तीसरा संस्करण बनाने की सोची। आपको बता दें की संजय दत्त और अरशद वारसी अभिनीत ये फिल्म आधी बन चुकी थी और फिल्म का टीज़र भी आ चूका था लेकिन उसी बीच संजय दत्त के जेल चले जाने की वजह से इस फिल्म पर रोक लग गयी और आज तक ये फिल्म पूरी बन नहीं पायी।

कूची -कूची होता है

ये फिल्म करण जौहर के प्रोडक्शन में बनने वाली पहली एनिमेटेड फिल्म थी जो की “कुछ कुछ होता है ” का एनीमेशन वर्शन था। आपको बता दें की इस फिल्म का ट्रेलर भी आ चुका है और ये फिल्म 2011 में रिलीज़ भी होने वाली थी लेकिन किसी कारणवश ये आजतक रिलीज़ नहीं हो पायी। ये फिल्म वास्तविक रूप में तीन कुत्तों की लव स्टोरी के ऊपर बनायीं गयी थी।

तलिस्मान

निर्देशक विधु विनोद चोपड़ा की ये फिल्म मुख्य रूप से देवकी नंदन खत्री का उपन्यास चंद्रकांता पर आधारित थी। इस फिल्म में मुख्य किरदार में अमिताभ बच्चन थे जिन्हें सुपर हीरो के तौर पर दिखाया गया था। फिल्म का ट्रेलर भी आ गया था लेकिन किसी वजह से ये फिल्म रिलीज़ नहीं हो पायी और दर्शक इसे देख नहीं पाए।

फिर से

“हम तुम ” बनाने वाले मशहूर डायरेक्टर कुणाल कोहली की ये पहली ऐसी रोमांटिक फिल्म थी जिसमे कुणाल पहली खुद बतौर हीरो नजर आये हैं। इस फिल्म में उनकी एक्ट्रेस बनी थी टीवी दुनिया की मशहूर एक्ट्रेस जेनिफर विंगेट। जेनिफर की पहली फिल्म थी लेकिन बदकिस्मती ऐसी की ये फिल्म विदेशों मै तो रिलीज़ हुई लेकिन इंडिया में इसे रिलीज़ नहीं किया गया।

पांच

बॉलीवुड के दबंग डायरेक्टर अनुराग कश्यप वैसे तो आजतक कई बार सेंसर बोर्ड के शिकार बन चुके हैं लकिन हर बार वो किसी ना किसी तरह से निकल ही जाते थे। पांच इनकी पहली ऐसी फिल्म थी जिसका ये निर्देशन भी कर रहे थे और बतौर एक्टर भी फिल्म के अंदर नजर आये थे लेकिन इनका लक ऐस रहा की इस फिल्म के सब्जेक्ट की वजह से सेंसर बोर्ड ने इसे रिलीज होने की अनुमति नहीं दी।